What is Pegasus Spyware Software, full details in hindi 

Pegasus Spyware Software एक अलग ही तरह का Spyware सॉफ्टवेयर है। यह सॉफ्टवेयर victim के फोन मे कब इंस्टॉल हो जाता है किसी को उसकी भनक तक नहीं लगती है।

आप की जानकारी के लिए बता दें की Spyware सॉफ्टवेयर का उपयोग Hackers करते हैं या फिर वो लोग करते हैं जिनको किसी की जासूसी करनी होती है। जो दूसरे स्पाइवेर सॉफ्टवेयर होते हैं उनको विक्टिम के फोन मे इंस्टॉल करना होता है और फिर उसे Activate करना होता है या फिर वायरस के द्वारा Spyware को ऐक्टवैट किया जाता है। परंतु यह Pegasus सॉफ्टवेयर कुछ अलग ही तरह का है यह सॉफ्टवेयर टारगेट व्यक्ति के फोन मे अपने आप ही इंस्टॉल होकर Activate हो जाता है और उसे पता भी नहीं चलता।


What is Pegasus Spyware Software, full details in hindi


Pegasus Spyware Software को किसने बनाया-

Pegasus Spyware Software को Israeli cyber Intelligence NSO ग्रुप द्वारा बनाया गया है। इस  सॉफ्टवेयर की मदद से किसी की भी जासूसी की जा सकती है। कंपनी का कहना है कि वह इसी तरह के जासूसी Software को बनाते हैं ताकि क्राइम और आतंकवादी गतिविधियों को रोकने और आम लोगों के सुरक्षा के लिए इस सॉफ्टवेयर को Government की खुफिया एजेंसियों को सॉफ्टवेयर को बेचा जाता है ताकि वह क्राइम करने वाले और आतंकवादी  गतिविधियां करने वाले लोगों पर नजर रख सकें और आम लोगों को सुरक्षित कर सकें यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो कि व्यक्ति की पर्सनल डिटेल्स और सेन्सिटिव इनफार्मेशन को जासूसी करने वाले को देता है।

पहली बार कब Pegasus Spyware Software  का पता चला-

इस सॉफ्टवेयर को पहली बार 2016 में IOS डिवाइस में पाया गया था, और उसके बाद फिर Android डिवाइस में पाया गया परंतु Android और IOS के डिवाइस में इस सॉफ्टवेयर का अलग-अलग वर्ज़न पाया गया था। परंतु इस सॉफ्टवेयर Android और IOS के डिवाइस में का कम करने का तरीका एक जैसा ही था।

जब Pegasus Spyware सॉफ्टवेयर को बनाया गया था तब इस सॉफ्टवेयर को Victim के फोन मे activate करने के लिए Social Engineering का उपयोग किया जाता था इसका मतलब है की इस सॉफ्टवेयर को जिसके फोन मे Activate करना हो तो उसके पास एक लिंक आता था और जैसे ही वह व्यक्ति उस लिंक पर क्लिक करता था तो Pegasus Spyware सॉफ्टवेयर Activate हो जाता था ।

परंतु कुछ समय के बाद इस सॉफ्टवेयर को update किया गया और अब यह सॉफ्टवेयर बिना लिंक पर क्लिक करवाए ही इसको किसी के भी फोन में Activate किया जा सकता है, और किसी को पता नहीं भी चलेगा। अब इस सॉफ्टवेयर को WhatsApp call के जरिए भी activate किया जा सकता है।

Pegasus Spyware Software की कीमत क्या है-

यह सॉफ्टवेयर लाइसेन्स के साथ बेचा जाता है और इसकी कीमत लगभग 70 लाख रुपए तक हो सकती है, और इस सॉफ्टवेयर के इन्स्टलैशन का चार्ज अलग लगता है। बाकी कंपनी और खरीदने वालों की डील के ऊपर निर्भर करता है की उनकी डील कितने में होगी।

कैसे पता लगाएं की फोन मे कोई स्पाइवेर सॉफ्टवेयर मौजूद है या नहीं-

एमनेस्टी इंटेरनेशनल के शोधकर्ताओं ने एक टूल विकसित किया है, जिसकी मदद से आप यह पता लगा सकते हैं की आपका पोने किसी भी स्पाइवेर सॉफ्टवेयर से सांकृमित है या नहीं है जिसके चलते आप अपने फोन को सिक्युर कर सकते हैं । इस टूल का नाम है मोबाईल वेरीफिकेशन टूल किट (MVT) जिसकी मदद से आप अपने डिवाइस को चेक कर सकते हैं आपका डिवाइस Pegasus Spyware या किसी और Spyware सॉफ्टवेयर से संक्रमित है या फिर नहीं है यह टूल Android और IOS दोनों डिवाइस के लिए काम करता है । यह टूल आपको GitHub पर मिल जाएगा परंतु इस टूल को का उपयोग करने के लिए आपके पास कमांड लीने का knowledge हो बहुत जरूरी है। 

Pegasus Spyware Software क्या-क्या कर सकता है-

यह सॉफ्टवेयर Users के SMS, messages, Contacts, Screenshot, Call Recording, Key Strokes Record करना, Email Read करना और Browsing history सेव करने तक में सक्षम है।



मैं आशा करता हूँ दोस्तों आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा यदि आपका कोई भी सवाल हो तो आप मुझे कमेन्ट कर पूछ सकते हैं मैं आपके सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश करूंगा।